Dark Mode
SAF के दो जवानों की मौत; रात में पी थी बीयर, स्टील के गिलास से आ रही थी जहर की गंध

SAF के दो जवानों की मौत; रात में पी थी बीयर, स्टील के गिलास से आ रही थी जहर की गंध

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में आठवीं बटालियन के एसएएफ के दो जवानों की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। इनमें से एक की सी.ओ. के बंगले पर ड्यूटी थी, दूसरा छुट्टी लेकर घर जाने की तैयारी में था। मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में आठवीं बटालियन के एसएएफ के दो जवानों की अलग-अलग अस्पतालों में संदिग्ध हालात में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि दोनों जवानों ने शनिवार की देर रात साथ में बैठकर स्टील के गिलास में बीयर पी थी। उसके बाद उनकी हालत बिगड़ गई। दोनों जवानों को अलग-अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतकों में एक प्रधान आरक्षक और एक आरक्षक शामिल हैं। दोनों आपस में दोस्त भी बताए जा रहे हैं।


छिंदवाड़ा में स्पेशल आर्म्ड फोर्स (एसएएफ) 8वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक और आरक्षक की मौत हो गई। आरक्षक की शनिवार देर रात सीओ बंगले पर ड्यूटी थी। शनिवार देर रात प्रधान आरक्षक धनीराम उईके को परिवार वाले हार्ट अटैक की आशंका मानकर अस्पताल लेकर पहुंचे थे। उनके सीने में दर्द उठा था। डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद आरक्षक प्रेमलाल काकोडिया ने सुबह 4 बजे आरोग्य अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा दिया। सूचना पर पुलिस पहुचीं और मर्ग कायम कर जांच में जुट गई। पुलिस हत्या और सुसाइड दोनों एंगल से जांच कर रही है। पुलिस ने बताया कि जिस गिलास में उन्होंने बीयर पी थी, उससे जहर की गंध आ रही थी। पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि गिलास में जहर पहले से था या बाद में मिलाया गया।
जानकारी के अनुसार, धनीराम छिंदवाड़ा शहर में अपने बेटे के साथ रहते थे। सुबह परिवार से बात की तो पता लगा कि शनिवार रात धनीराम को विवांता अस्पताल लेकर पहुंचे थे। वहां उन्हें मृत घोषित कर दिया।

रात 2 बजे परिजन शव को मंडला ले गए। उन्हें वापस बुलाकर शव का पोस्टमॉर्टम कराया गया है। पुलिस ने बताया कि प्रधान आरक्षक की ड्यूटी पूरी हो चुकी थी और करीब 9 बजे दोनों ने बंगले के बाहर आकर बीयर पी होगी। बताया जा रहा है कि शनिवार रात वीआईपी रोड पर स्थित सीओ बंगले में आरक्षक प्रेमलाल की ड्यूटी शनिवार रात 8 बजे से थी। प्रेमलाल की गाड़ी बंगले के बाहर खड़ी मिली। बाइक की डिक्की से दो केन, दो स्टील के गिलास मिले। गिलास से सल्फास जैसी गंध आ रही थी। ड्यूटी पर तबीयत बिगड़ने पर परिवार के लोग उन्हें आरोग्य अस्पताल में उपचार के लिए ले गए थे।


दोनों जवानों की मौत की खबर मिलते ही जब पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि दोनों ने शनिवार की रात वीआईपी रोड पर साथ में बैठकर बीयर पी थी। उसके बाद देर रात उनकी हालत बिगड़ी। दोनों ही जवान मंडला जिले के निवासी थे और छिंदवाड़ा में आठवीं बटालियन में पदस्थ थे। पुलिस के अनुसार जब प्रधान आरक्षक के वाहन की तलाशी ली गई तो उसकी गाड़ी की डिक्की में बीयर की दो केन और स्टील के दो गिलास मिले। स्टील के गिलासों में से सल्फास की गंध आने के बाद मामला संदेहास्पद हो गया। पुलिस ने दोनों ही मामलों में अलग-अलग मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू की है। कोतवाली थाना प्रभारी उमेश गोल्हानी के मुताबिक, शनिवार रात दोनों ने सीओ बंगले के बाहर साथ में बीयर पी। गिलास में जहर पाया गया है। किसी एक ने जहर मिलाया है या फिर दोनों ने रजामंदी से जहर पीया, इसकी जांच की जा रही है। फिलहाल हत्या की आशंका तो नहीं है, लेकिन इस एंगल से भी पड़ताल की जा रही है। मामला सस्पेक्टेड पॉइजनिंग का है। पता लगा है कि दोनों साथ में शराब पीते थे।

Comment / Reply From

You May Also Like

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!