Dark Mode
Sitharaman ने संभाला पदभार

Sitharaman ने संभाला पदभार

मोदी कैबिनेट में वापसी एक सफल ट्रैक रिकॉर्ड के आधार पर हुई

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी कैबिनेट में मंत्रालयों का बंटवारा हो चुका है। निर्मला सीतारमण को एक बार फिर से वित्त मंत्री बनाया गया है। बुधवार को केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री के रूप में सीतारमण ने कार्यभार संभाला। कार्यभार संभालने के बाद उन्होंने कुछ फाइलों पर हस्ताक्षर भी किए। सीतारमण के साथ पंकज चौधरी भी थे, जिन्होंने मंत्रालय में राज्य मंत्री (एमओएस) के रूप में कार्यभार संभाला है। सीतारमण 2014 और 2019 के मोदी मंत्रिमंडल में केंद्रीय मंत्री रह चुकी हैं। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन के बाद पीएम मोदी ने निर्मला सीतारमण को वित्त मंत्रालय का जिम्मा सौंपा था। उससे पहले उनके पास रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी थी। मोदी कैबिनेट में सीतारमण की वापसी एक सफल ट्रैक रिकॉर्ड के आधार पर हुई है, जिसमें भारतीय अर्थव्यवस्था ने 2023-24 में 8.2 फीसदी की मजबूत वृद्धि दर्ज की।

यह दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तेज है और मुद्रास्फीति 5 फीसदी से नीचे आ गई है। वित्त मंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान राजकोषीय घाटा भी 2020-21 में सकल घरेलू उत्पाद के 9 फीसदी से कम होकर 2024-25 के लिए 5.1 फीसदी पर आ गया। सीतारमण के सामने अब चुनौती बजट पेश करने की है। लोकसभा चुनाव के चलते इस साल फरवरी में अंतरिम बजट पेश हुआ था। अब जुलाई में पूर्ण बजट आने वाला है, जो यह तय करेगा कि अर्थव्यवस्था उच्च विकास पथ पर बनी रहे और अधिक रोजगार सृजित हो। 2014 में उन्होंने वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री और बाद में स्वतंत्र प्रभार के साथ वाणिज्य और उद्योग मंत्री के रूप में काम किया। वह 2017 में रक्षा मंत्री बनीं। 2019 में, सीतारमण ने केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला।

Comment / Reply From

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!