Dark Mode

"ताल दरबार" में 1300 संगीत साधकों ने बनाया World Record,खुशी में CM ने घोषित किया प्रादेशिक तबला दिवस

संगीत सम्राट तानसेन की नगरी में World Record 

 

1300 तबला वादकों ने एक साथ किया तबला वादन 

 

CM ने 25 Dec को घोषित किया तबला दिवस 

 

संगीत सम्राट तानसेन की नगरी ग्वालियर में वंदे मातरम की धुन पर "ताल दरबार" में यूनेस्को द्वारा चयनित संगीत नगरी में राष्ट्रीयता का उद्घोष करते हुए लगभग 1300 संगीत साधकों ने प्रदेश की ऐतिहासिक,सांस्कृतिक और संगीत की त्रिवेणी को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करा दिया। इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बने मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड संस्था का प्रमाण पत्र ग्रहण किया। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि इस उपलब्धि को यादगार बनाने और सभी संगीत साधकों के सम्मान में 25 दिसंबर को पूरे प्रदेश में तबला दिवस मनाया जायेगा। इस अवसर पर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि ताल दरबार के कला साधकों ने संगीत के कुंभ का नजारा दिखा दिया। आज स्वयं भगवान इंद्र की सभा का स्वरूप नजर आया। आप सभी की संगीत साधना को देखकर मैं धन्य हो गया। आयोजन में शामिल हुए तबला वादक भी इस कार्यक्रम को लेकर उत्साहित नजर आए तो वहीं आयोजन के प्रमुख उस्ताद सलीम ने भी आयोजन के लिए सभी तबला वादकों को धन्यवाद देते हुए आभार जताया और मुख्यमंत्री द्वारा 25 दिसंबर को तबला वादन दिवस घोषित किए जाने का स्वागत किया। 

 

 

 

 

Thumb तबले का World Record !!

Comment / Reply From

You May Also Like

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!