Kailaras Medical Store बने नशा के सौदागर, हजारों लोगों की जिंदगी से कर रहे खिलवाड़

  • बेन लगे इंजेक्सन, और टेबलेट एवं टोसेक्सस जैसी दवाइयां बिना डॉक्टर पर्ची के ही देते हैं महंगे दामो में  
कैलारस। नगर में इन दिनों  नशा का कारोबार जोरों पर चल रहा है, मेडिकल स्टोर संचालक डबल मुनाफे के चक्कर मे युवा पीढ़ी को कर रहे बरबाद। कैलारस शहर में किराने की तरह खुली है मेडिकल स्टोर की दुकानें और  शासन स्तर से रोक लगी दवाइयों को महंगे दामों में खुलेआम बेच रहे हैं और युवा लडक़ों का भविष्य करे खराब। ड्रग इंस्पेक्टर कभी भी कार्यवाही नहीं करते। वर्षो से आज तक कोई कार्यवाही नही हुई। 
कैलारस अनुविभाग अधिकारी पुलिस एसडीओपी संजय कोच्छा ने बीते कुछ दिन पूर्व नशा करने वाले लडक़ो को पकड़ा जिसमे सुरेश गौड़ पुरानी सब्जी मंडी वाले नसेलची ने बताया कि आज बाजार में कुआं के पास श्रीराम मेडिकल स्टोर से (एविल) 10 एमएल का इंजेक्सन खरीदा  जिसको अपनी नशो में स्वयं के द्वारा लगाया और भरपूर नशा हो जाता है जबकि यह इंजेक्शन  एन्टी एलर्जी , खाज खुजली के लिये उपयोग होता है  पर  कुछ नशेलची लोग इसको सस्ता नशा मानकर करते हैं। यह ३० से ५० रुपये तक आसानी से उपलब्ध हो जाता है बिना डॉक्टर पर्ची के ही, सिर्फ मेडिकल स्टोर संचालक को २० रुपये बढ़ाकर देना होता है। कैलारस शहर में यह नशे का कारोबार जोरों पर है। जैसे टोसेक्स सीरप, फेनाडरल ,पेंटराजिन आदि खासी की सीरप पर पूर्ण रूप से रोक लगी है फिर भी कैलारस मेडिकल स्टोर पर आसानी से उपलब्ध हो जाती है, मोटे मुनाफे के चक्कर मे। शाम ढलते ही रोड़ पर नंगा नाच  करते है नशा के आधी युवा लडक़े। रेलवे स्टेशन के पास कैलारस में एक सैकड़ा से अधिक मेडिकल स्टोर है जिसमे लाइसेन्स धारी होंगे ३० और बाकी बिना लाइंसेंस के अनट्रेंड चला रहे मेडिकल स्टोर। पुरानी सब्जी मंडी, चौड़ा खरनजा, पहाडग़ढ़ रोड़, डोंगरपुर, हरवके पास, गांधी मार्ग, जवारग मार्ग, शाी मार्ग आदि स्थानो पर खुले हैं मेडिकल स्टोर। इन पर कब होगी कार्यवाही। कैलारस में मेडिकल स्टोर संचालक सरकार को दे रहे  चुनौती,  शासन के आदेश की उड़ा रहे धज्जियां, खुलेआम बेच रहे नशे की दवाईयां। 
  •    इनका कहना है...
 कैलारस में कुछ समय से नशा का कारोबार बढ़ गया है  जिसमे यह लोग  सस्ता नशा करने के चक्कर मे ऐविल गोली भी आती है और इंजेक्सन भी आता है २ एम एल का ओर १० एम एल का जो  एलर्जी के लिए उपयोग होता है  पर कुछ लडक़े इसको नशा के रूप में उपयोग करते है जिससे  कुछ दिन बाद किडनी लीवर, खराब हो जाता है मेडिकल स्टोर बाले अगर बिना डॉक्टर पर्ची के दवाईयां बेच रहे है तो में जांच करवाता हूँ उनके खिलाफ कार्यवाही होगी                   
डॉक्टर शोभाराम मिश्रा, बीएसओ, कैलारस, 

  कैलारस पुलिस ने नशा करने वाले कुछ लडक़ों को पकड़ा जिसमे पता चला कि नशा कहा से आता है तो सेरेश गोड़ ने बताया कि में १० वर्षो से ऐसा ही नशा करता हूँ  मेडिकल स्टोर से इंजेक्सन खरीद कर नशो में लगा लेते है और सस्ती दर में नशा हो जाता है  बिना डॉक्टर पर्ची के ही आसानी से मिल जाता है कुछ मंहगे दामो में। में इस विषय मे ड्रग इंस्पेक्टर से बात कर  सभी मेडिकल स्टोरों की जांच करवाएंगे ओर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी सेकड़ो युवा पीढ़ी बरबाद हो रही है  
संजय कोच्छा,एसडीओपी, कैलारस 

 कैलारस मेडिकल जो भी शिकायत है उसकी में आकर जांच करवाता हूँ   कुछ मेडिकल बिना लाइसंस के भी चल रहे है उन पर भी कार्यवाही की जायेगी 
देशराज राजपूत, ड्रग इंस्पेक्टर, मुरैना 
You May Also Like