CM शिवराज ने विद्यार्थियों के साथ किया योग, बोले - योग आयोग के गठन की तैयारी पूरी

आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में विद्यार्थियों के साथ योग किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में योग आयोग बनेगा। इसकी तैयारी पूरी कर ली है। स्कूलों में भी योग की शिक्षा दी जाएगी।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि रोज अपने लिए योग करने समय निकालें। उन्होंने कहा कि योग का मतलब सिर्फ शरीर का व्यायाम नहीं है, यह मन, बुद्धि और शरीर आदि का शुद्धिकरण है। प्राणायाम से अपनी सांस पर नियंत्रण कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड पर योग और प्राणायाम से नियंत्रण पाया गया। मैं भी योग से जल्दी रिकवर हुआ। योग के कारण ही कोविड छूकर निकल गया। फेफड़ों तक नहीं पहुंचा। मुख्यमंत्री ने कहा कि चुने हुए आसान करें। प्राणायाम, ध्यान और प्रार्थना जरूर करें। अपने आप को परमात्मा से जोड़े। वह पावर बैंक है।   मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों के साथ योग किया और उनको योग के बारे में बताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं रोज तीन पेड़ लगाता हूं। पर्यावरण बचाने के लिए पेड़ लगाना चाहिए और संरक्षण भी करना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि योग जरूर करें। कई बार बच्चे हताश और निराश होते हैं। वहीं कुछ बच्चे ऊर्जा से भरे हुए होते हैं। इसका कारण है कि वे योग करते हैं और मन पर नियंत्रण रखते है। एक दिन नहीं बल्कि हर दिन योग करें।
बता दें राजधानी भोपाल में हुई भारी बरसात और मौसम के पूर्वानुमान अनुसार रात में भी बारिश की संभावनाओं को देखते हुए मुख्यमंत्री आवास में योग कार्यक्रम करने का निर्णय लिया गया। पहले यह कार्यक्रम लाल परेड मैदान में होना था।  बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने खजुराहो लोकसभा के कंदारिया महादेव मंदिर परिसर में विश्व योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे। वहीं, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर भोपाल सेंट्रल जेल में बंदियों के साथ योग किया।  

You May Also Like