बहू ने जेठ और देवर से संबंध नहीं बनाए तो मारपीट कर घर से निकाला, लात मारकर गिराया गर्भ

शिवपुरी जिले में एक झकझोरने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला को सास और पति ने घर से इसलिए निकाल दिया क्योंकि महिला ने देवर और जेठ से संबंध बनाने से इनकार कर दिया था। इतना ही नहीं महिला दो महीने की गर्भवती थी, उसके जेठ ने पेट में लात मारकर दो महीने का गर्भ गिरा दिया। पीड़िता ने महिला थाने में सास, पति, जेठ और देवर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई लेकिन सुनवाई नहीं हुई, जिसके बाद महिला ने सोमवार को SP ऑफिस पहुंचकर शिकायत की।
जानकारी के अनुसार पीड़िता सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के टोंगरा रोड की रहने वाली है। महिला का मायका मुरैना जिले में है, उसकी शादी शिवपुरी के टोंगरा रोड के रहने वाले एक युवक से 5 मई 2021 को हुई थी। महिला ने ससुराल पक्ष पर पैसे मांगने का भी आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि शादी के बाद उसके पिता ससुरालवालों को हजारों रुपये दे चुके हैं, लेकिन उसके बाद भी ससुरालवालों ने पैसे मांगने बंद नहीं किए। महिला के अकाउंट में दो लाख रुपये थे, जो कि ससुराल वालों ने ले लिए, वे महिला से पांच लाख रुपये की मांग कर रहे हैं। महिला ने बताया कि उसके दो बड़े जेठ और एक देवर है। सभी मिलकर रहते हैं। देवर और दोनों जेठ अविवाहित हैं। पति, सास और घर के अन्य सदस्य लगातार महिला को प्रताड़ित करते हैं और उसके साथ अश्लील हरकतें करते हैं। दोनों जेठ और देवर महिला के साथ संबंध बनाना चाहते हैं। सास से शिकायत करने पर सास ने अपने तीनों बेटों को समझाने के बजाय चुप्पी साध ली। जेठ और देवर महिला पर संबंध बनाने का दबाव डाल रहे हैं।

पेट में लात मारकर गिराया गर्भ
पीड़ित महिला ने जेठ पर लात मारकर दो महीने का गर्भ गिराने का आरोप लगाया है। पीड़िता का कहना है कि नशे के आदी होने के कारण जेठ की शादी नहीं हो पा रही है। वे नशे की हालत में उसके साथ छेड़खानी करते हैं। पति से शिकायत करने पर उसने सास के साथ मिलकर मारपीट की। महिला का कहना है कि वह दो महीने की गर्भवती थी, लेकिन जेठ ने पेट में लात मारकर गर्भ गिरा दिया।
 

You May Also Like