खुद की लूट की साजिश रची: फाइनेंस कंपनी के ब्रांच मैनेजर ने अपने 4 साथियों के साथ रचा था षड्यंत्र, तीन आरोपी पकड़े

ग्वालियर।  डबरा कस्बे में एक फाइनेंस कंपनी के ब्रांच मैनेजर द्वारा आईपीएल क्रिकेट मैच में सट्टा हारने के बाद खुद की लूट की साजिश रची गई जिसमें चार अन्य लोगों की मदद से आरोपी ने यह लूट का षडयंत्र रचा गया जिसका ग्वालियर पुलिस ने आज खुलासा किया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि डबरा सिटी के एमएस मैरिज गार्डन के पास अन्नपूर्णा फाइनेंस कंपनी के ब्रांच मैनेजर अंशुल गुप्ता के साथ लूट की यह वारदात हुई थी जिसके बाद पुलिस ने जब विवेचना शुरू की तो पता लगा कि आरोपी आईपीएल मैच में सट्टा लगाता है और काफी रकम हार गया जिसके बाद पुलिस ने जांच पड़ताल को आगे बढ़ाया तो पूरा मामला पुलिस की समझ में आ गया पुलिस ने जब कड़ाई से पूछताछ की तो जो राज सामने आया उसे सुनकर पुलिस भी चौक गई।
इस फर्जी लूट की पूरी कहानी में फरियादी अंशुल गुप्ता ने अपने अन्य मित्रों के साथ लूट की यह साजिश रची और जब फरियादी फाइनेंस कंपनी का केस लेकर बाइक से निकला तो उसके 4 साथियों द्वारा ही उसके साथ लूट की वारदात की गई लूट की घटना में फरियादी अंशुल गुप्ता ने 11 लाख रुपए से अधिक का कैश होने की बात कही गई थी जिसमें आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने इस वारदात को अंजाम देने वाले तीन आरोपियों को दबोच लिया है और उनके कब्जे से एक कार बाइक और 2 लाख 30 हजार रुपए नगद बरामद किए हैं इसके साथ ही आरोपियों से एक 314 बोर का अवैध कट्टा भी मिला है लूट की झूठी कहानी में शामिल दो आरोपियों की पुलिस को अभी तलाश है साथ ही पुलिस लूटी गई बाकी की राशि को भी बरामद करने का प्रयास कर रही है। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि इस झूठी लूट का खुलासा आरोपी मैनेजर अंशुल गुप्ता के बताए गए घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने किया है. इस फर्जी लूट की घटना में आरोपी मैनेजर अंशुल गुप्ता ने जो बैंक में 11 लाख की डिटेल बताई है. इसकी जांच की जा रही है अभी जो लूट की जांच में तथ्य सामने आए हैं उसमें 6 लाख 50 हजार रुपए पुष्टि हुई है जिसमें से 3 लाख 50 हजार रुपए एक अन्य फरार आरोपी के पास बताया जा रहा है बाकी रकम के बारे में आरोपी अंशुल गुप्ता से पूछताछ की जा रही है।



You May Also Like